संस्कृति – संविधान के महाझूठ

संविधान के महाझूठ 

Advertisements

One thought on “संस्कृति – संविधान के महाझूठ

  1. देश की व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए भारत का संविधान बना I पैसठ वर्ष के पश्चात् भी देश में अव्यवस्था ही अव्यवस्था है I भारत के वर्त्तमान संविधान ने भारत की जनता को न न्याय दिया और न सुरक्षा I यह कैसा और किसके लिए संविधान ? अब समय की मांग है कि हम भारत के इस त्रुटिपूर्ण संविधान को बदल दें I भारत का प्रस्तावित संविधान की रूप रेखा हम भारत की जनता यानि लोक तंत्र के असली मालिक के समक्ष रखते हैं I इस पर देश व्यापी जनमत जागरण के लिए हम देश व्यापी दौरा कर चुके हैं I भारत का प्रस्तावित संविधान की रूप रेखा को भारत की जनता ने स्वीकार करना शुरू कर दिया है I आप सभी इसे पढ़े और अपनी समीक्षा टिपण्णी भेजें I 2019 का चुनाव हम इसी मुद्दे पर लड़ेंगे I सभी लोक सभा क्षेत्रो से लोक स्वराज्य मंच के उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे I आप भारत का प्रस्तावित संविधान को पढ़िए साथ ही साथ लोक संसद के प्रारूप को पढ़िए I भावी भारत का प्रस्तावित संविधान
    https://docs.google.com/file/d/0B4TuEWmc6yjgUWloenlIMFA5a2c/edit

    लोक संसद
    https://docs.google.com/file/d/0B4TuEWmc6yjgS0lkdjhUSmpmOUk/edit
    को पढिये और अपनी वेबाक टिपण्णी कीजिये

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s